Posts

Showing posts from 2019

All about Ambedkar

Image
‘आओ अंबेडकर से प्यार करें’ 15 Sep 2016 Courtsey : sabrang प्रख्यात इतिहासकार प्रोफ़ेसर लाल बहादुर वर्मा के आलेखों का एक सिलसिला हमने पहली बार पर पिछले दिनों आरम्भ किया था। इस कड़ी में दो आलेख पहले ही प्रस्तुत किये जा चुके हैं जिसे पाठकों के बीच अपार लोकप्रियता मिली। इसी कड़ी को आगे बढाते हुए हम प्रस्तुत कर रहे हैं प्रोफ़ेसर लाल बहादुर वर्मा का यह आलेख ‘आओ अम्बेडकर से प्यार करें।’ अपने इस आलेख में लाल बहादुर जी ने सरल सहज भाषा में बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के जीवन संघर्ष को उकेरते हुए आज के समय में उनकी उपादेयता पर प्रकाश डाला है। तो आइए पढ़ते हैं प्रोफ़ेसर लाल बहादुर वर्मा का यह आलेख – ‘आओ अंबेडकर से प्यार करें’। Image : Wikimedia Commons ‘आओ अंबेडकर से प्यार करें’ -हम किसे याद करते हैं? -जिससे प्यार करते हैं? -हम किससे प्यार करते हैं? -जिससे अपनापन लगता है। -हम सबसे अधिक किससे प्यार करते हैं? -अपनी माँ से! -क्योंकि उसने हमें जन्म दिया है, वह न होती तो हम भी नहीं होते। -कुछ लोग धरती को, प्रकृति को, देश को भी माँ कहते हैं। -ठीक ही है धरती, प्रकृति और भी माँ जैसे ही तो हैं। हम ही नहीं,